BREAKING NEWS

Monday, 9 February 2015

मोदी सरकार हिंद महासागर से निकालेगी सोना-चांदी

पणजी। अगर आपसे कहा जाए कि समुद्र में सोने-चांदी और प्लैटिनम जैसी बेशकीमती धातुएं हैं तो इसे मजाक न मानें। केंद्र सरकार हिंद महासागर तल के 10,000 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में सोने, चांदी और प्लैटिनम जैसे खनिजों के लिए खनन की तैयारी में जुटी हुई है। एक वैज्ञानिक के मुताबिक, हिंद महासागर तल के 10,000 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र से सोने, चांदी और प्लैटिनम जैसे खनिजों का दोहन करने के लिए भू-विज्ञान मंत्रालय, अंतरराष्ट्रीय समुद्रतल प्राधिकरण (आईएसए) के साथ अनुबंध को अंतिम रूप दे रहा है।

बेशकीमती धातुओं से भरा है
राष्ट्रीय अंटार्कटिक और समुद्री अनुसंधान केंद्र (एनसीएओआर) के निदेशक एस. राजन ने कहा कि जमैका के आईएसए के कानूनी और तकनीकी आयोग ने भी भारत द्वारा सौंपी गई खोज योजना को मंजूरी दे दी है। राजन पणजी में आयोजित तीन दिवसीय भारतीय विज्ञान सम्मेलन में हिस्सा ले रहे थे। केंद्रीय पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय ने गोवा स्थित एनसीएओआर को इस कार्यक्रम के लिए नामित किया है। राजन के मुताबिक, हिंद महासागर का मध्य और दक्षिण में पश्चिमी हिस्सा तांबा, शीशा, जस्ता, सोने, चांदी, पैलाडियम और प्लैटिनम जैसी बेशकीमती धातुओं से भरा है।

Share this:

Post a Comment

 
Copyright © 2014 Akhand Bharat Times | Hindi News Portal | Latest News in Hindi : हिंदी न्यूज़ . Designed by OddThemes & Customised By News Portal Solution