BREAKING NEWS

Friday, 16 September 2016

साम्प्रदायिक घटना (बिजनौर,उत्तरप्रदेश) : शान्ति का कौम बताने बाले क्या अब आयेंगे सामने ? क्या एक खाश समुदाय के लोगों को बचपन से यही संस्कार दिए जातें हैं ? की स्कुल जाती बच्चियों से छेड़-छाड़ करे और विरोध करने पर उस पुरे समाज के लोग इकट्ठा होकर दंगा-फसाद करे ?

बिजनौर : शहर से सटे ग्राम पैदा में शुक्रवार सुबह छेड़खानी को लेकर दो गुटों में संघर्ष हो गया। ग्रामीणों के अनुसार संघर्ष में पांच लोगों की जान गई है, जबकि एडीजी एलएंडओ दलजीत सिंह चौधरी ने तीन मौत की पुष्टि की है। 12 घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जिनमें से पांच को मेरठ रेफर किया गया है। मेरठ के अस्पताल में घायलों की हालत खतरे से बाहर है। देर शाम कुछ बाइक सवारों ने कुछ दुकानों पर पथराव किया। इससे तनाव की स्थिति बन गई। बाजार बंद हो गया। भारी संख्या में पुलिस फोर्स ने फ्लैगमार्च किया।


सुबह करीब साढ़े सात बजे नयागांव निवासी कुछ छात्राएं स्कूल जा रही थी। बिजनौर-नजीबाबाद रोड स्थित गांव पैदा के बस स्टैंड पर दूसरे पक्ष (तथाकथित शान्ति समुदाय) के युवकों ने उनके साथ छेड़छाड़ की। इसी दौरान छात्राओं के परिचित भी वहां आ गए। उन्होंने युवकों से विरोध जताया तो दोनों पक्षों में मारपीट हो गई। जब इसकी सूचना गांव में पहुंची तो छेड़छाड़ के आरोपी पक्ष के सैकड़ों लोग मौके पर आ गए। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार उन्होंने छेड़छाड़ का विरोध कर रहे युवकों की जमकर पिटाई की। बस स्टैंड पर मौजूद दुकानों में भी तोड़फोड़ करने का आरोप है। एक बाइक में आग भी लगाई गई।
इसके बाद नयागांव के लोगों ने एकत्र होकर धावा बोल दिया। दोनों पक्षों में जमकर पथराव और फायरिंग हुई। इस फायरिंग के एक पक्ष के व्यक्ति की मौके पर ही मौत हो गई जबकि, दो अन्य लोगों ने जिला अस्‍पताल ले जाते समय दम तोड़ दिया। तीन महिलाओं समेत 12 लोगों को जिला अस्‍पताल में भर्ती कराया गया, जहां से पांच की हालत गंभीर होने के चलते मेरठ रेफर कर दिया गया है। मेरठ में घायलों को भाग्यश्री अस्पताल में भर्ती कराया गया है।
एडीजी (कानून-व्‍यवस्‍था) और गृह सचिव ने ली मामले की जानकारी
संघर्ष की सूचना पर सुबह से ही जिले में आला अधिकारियों का जमावड़ा लगा रहा। आईजी जोन बरेली विजय सिंह मीणा, कमिश्‍नर मुरादाबाद वेंकटेश्‍वर लू, डीआईजी मुरादाबाद ओंकार सिंह ने मौका-मुआयना किया। दोपहर एक बजे लखनऊ से गृह सचिव मणिप्रसाद मिश्रा और एडीजी लॉ एंड आर्डर दलजीत सिंह चौधरी हेलीकॉप्‍टर से बिजनौर पहुंचे। दोनों अधिकारियों ने मौका-मुआयना किया और जिला अस्‍पताल जाकर पीडि़तों से मिले।
जिला अस्‍पताल में अधिकारियों का हुआ विरोध
जिला अस्‍पताल में गुस्‍साई भीड़ ने अधिकारियों को खूब खरी-खोटी सुनाई। भीड़ ने आरोपियों की तत्‍काल गिरफ्तारी की मांग की। भीड़ एसपी को हटाने की मांग भी कर रही थी। भीड़ को संभालने के लिए पुलिस को खासी मशक्‍कत करनी पड़ी।

Share this:

Post a Comment

 
Copyright © 2014 Akhand Bharat Times | Hindi News Portal | Latest News in Hindi : हिंदी न्यूज़ . Designed by OddThemes & Customised By News Portal Solution