BREAKING NEWS

Friday, 14 October 2016

उम्र से पहले गिरते बाल किसी बीमारी की निशानी तो नहीं , बालों के गिरने के कारण , बाल गिरने के प्रकार (एलोपेसिया) ....

common-hair-problems-dry-hairfall-dandruff
  • उम्र से पहले गिरते बाल किसी बीमारी की निशानी।
  • आनुंवाशिकती या असंतुलित डायट मुख्य कारण।
  • बाल के गिरने का एक प्रकार होता है एलोपेसिया।
  • नारियल तेल की मालिश से मजबूत होते है बाल।

    एक उम्र के बाद बालों का गिरना आम बात है लेकिन यदि समय से पहले बाल गिरने लगे तो इसका अर्थ है आपको बालों संबंधित कोई समस्या है। बाल झड़ने के प्रमुख कारणों में थकान, त्वचा का रूखापन, भूख की कमी, कब्ज रहना, शरीर में सुन्नता शुक्राणुओं की कमी, बार-बार संक्रमण होना आदि भी हैं। इन कारणों से ही बालों के गिरने के प्रकार तय किए जाते हैं। आइए जानें बाल गिरने के कारण व प्रकार के बारे में।

    बालों के गिरने के कारण

    बालों के गिरने के बहुत कारण है कभी किसी बीमारी के कारण तो कभी आनुंवाशिक बीमारी के कारण बाल झड़ते हैं। समय से पहले बाल झड़ने का अर्थ है आप बालों संबंधी किसी समस्या से ग्रसित है, ये समस्या कोई भी हो सकती है फिर चाहे वह असंतुलित डायट के कारण होता है। तो कभी किसी लंबी बीमारी के चल रहे इलाज के कारण। किसी तरह का कोई मानसिक आघात भी बाल झड़ने का प्रमुख कारण है। कैंसर के ट्रीटमेंट के दौरान ली जाने वाली कीमोथेरेपी भी बाल गिरने का प्रमुख कारण है। रक्त संचार में कमी होने से भी बाल गिरने लगते हैं। कुपोषण होना या फिर डायबिटीज पीडि़त व्यक्तियों के भी बाल जल्दी ही झड़ने लगते हैं।  बालों की ठीक तरह से देखभाल ना करना, साफ-सफाई ना रखना, रूसी की समस्या होना, बालों को बहुत अधिक ड्राई होने से भी बाल गिरने लगते है।



    बाल गिरने के प्रकार (एलोपेसिया)


    बाल गिरने का एक प्रकार वह होता है, जिसे 'मेल पैटर्न बाल्डनेस' (एमपीबी) कहते हैं। इसे 'एलोपेसिया हेरीडिटेरिया' भी कहते हैं। इसमें सामान्य बालों के झड़ने के बाद उनकी जगह इतने पतले और हलके बाल निकलते हैं जो लगभग अदृश्य होते हैं।जैसे-जैसे समय बीतता जाता है, ज्यादा सामान्य बाल झड़ते रहते हैं और उनकी जगह ये लगभग अदृश्य बाल निकलने लगते हैं। इन बेहद पतले और आँखों से न दिखाई देने वाले बालों के कारण व्यक्ति गंजा दिखाई देता है।असली गंजेपन में बालों की जड़ें सूख जाती हैं और उनके 'फॉलिकल्स' नष्ट हो जाते हैं। बाल झड़ने के रोगियों में 90 प्रतिशत रोगी इसी श्रेणी में आते हैं।


    नारियल के तेल या बादाम के तेल से बालों की हल्की-हल्की मालिश 1-15 मिनिट तक करें। इसके बाद हल्के गर्म पानी में तौलिए को भिगोकर बालों पर लपेट लें। इसे 2-3 मिनिट तक रखें। ऐसा कुछ दिनों तक लगातार करने से बालों की जड़ों को मजबूती मिलती है। साथ ही, बाल गिरना भी कम हो जाते हैं और नए बाल आने लगते हैं।

Share this:

Post a Comment

 
Copyright © 2014 Akhand Bharat Times | Hindi News Portal | Latest News in Hindi : हिंदी न्यूज़ . Designed by OddThemes & Customised By News Portal Solution