BREAKING NEWS

Sunday, 13 November 2016

मैं कुर्सी के लिए पैदा नहीं हुआ , मैंने देश के लिए घर , परिवार छोरा है , आप मुझे 50 दिन दीजिये मेरा वादा है जैसा भारत बना कर देने का वादा किया था , वैसा भारत बना कर दूंगा : नरेंद्र मोदी

नई दिल्ली (13 नवंबर):गोवा में एक कार्यक्रम में बोलते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भावुक हो गए। उन्होंने नोटबंदी पर बयान देते हुए कहा कि मैंने घर, परिवार, सबकुछ देश के लिए छोड़ा है। मैं कुर्सी के लिए पैदा नहीं हुआ। सरकार बनाते ही मैंने काले धन पर कदम उठाया था। मेरी कैबिनेट के पहले दिन ही मैंने एसआईटी गठित की। मैं देश को कभी अंधेरे में नहीं रखा।

मोदी बोले- मैं कुर्सी के लिए पैदा नहीं हुआ हूं, देश के लिए सबकुछ छोड़ा...

- मोदी ने कहा, ''70 साल की बीमारी 17 महीने में मिटानी है।''

- ''हमने एक और काम किया, सोना खरीदने पर एक्साइज ड्यूटी नहीं लगती। पहले कम लगती थी। ज्वैलर्स की संख्या कम है। बड़े शहरों में 50 होंगे।''

- ''मैंने घर, परिवार, सबकुछ देश के लिए छोड़ा है। मैं कुर्सी के लिए पैदा नहीं हुआ। (यहां मोदी थोड़ा भावुक हो गए)

- मोदी ने कहा, ''आपको पता था क्या, सबको मालूम था कि ये सरकार बनने के तुरंत बाद हमने एक सुप्रीम कोर्ट से रिटायर्ड जज के नेतृत्व में SIT बनाई।''

- "सबको पता था कि ये कोई न कोई बड़ा फैसला जरूर लेगा।"

- ''दुनिया में कहां-कहां ब्लैकमनी का काम चल रहा है, इसकी जांच हो रही है।''

- ''पहले वाली सरकारें टाल रही थीं.. हमने किया। पुत्र के पांव पालने में.. जब पहले दिन ऐसा निर्णय लिया तो पता नहीं था कि आगे में क्या करने वाला हूं।''

- ''कुछ नहीं छिपाया, देश को गलतफहमी में नहीं रखा, खुलकर बात कही और ईमानदारी से।''

- ''दूसरा जरूरी काम था कि दुनिया के देशों के साथ 50-60 साल में ऐसे एग्रीमेंट हुए कि हम ऐसे बंध गए कि जानकारियां ही नहीं मिल पा रही थी।''

राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा :
याद है कोल घोटाले , 2G घोटाले सहित सैकड़ो घोटाले के दिन ?
घोटाले  करने वाले को आज 4000 रूपये लेने के लिए लाइन में लगनी पर रही है । तो कस्ट होनास्वाभाविकहै ।

आप मुझे मात्र 50 दिन दीजिये मेरा वादा है जैसा भारत बना कर देने का वादा किया था बना कर  दूंगा , मात्र ५० दिन में ।

आपसे अखंड भारत टाइम्स परिवार विनम्र निवेदन करता है की शान्ति बनाए रखे , आगे आने वाले दिन आपके हैं ।

Share this:

Post a Comment

 
Copyright © 2014 Akhand Bharat Times | Hindi News Portal | Latest News in Hindi : हिंदी न्यूज़ . Designed by OddThemes & Customised By News Portal Solution