BREAKING NEWS

Saturday, 12 November 2016

मोदी जी नोट बंद करने के फैसले को वापस लो , नहीं तो इससे अर्थव्यवस्था चौपट हो जाएगी ।

Modi decision to close the back up otherwise it will ruin the economy
नोट बंद करने के फैसले को वापस लिये जाने की मांग करते हुए केजरीवाल ने कहा कि इससे अर्थव्यवस्था चौपट हो जाएगी। नोटबंदी के नाम पर घोटाले को अंजाम दिया जा रहा है। कालेधन वाले अपना पैसा सोना, संपत्ति और डॉलर में खरीद रहे हैं। डॉलर को दो हजार रुपए के नोट से बदला जा रहा है।

केजरीवाल ने आरोप लगाया कि मोदी ने आठ नवंबर से पहले अपने 'दोस्तों' को सतर्क कर दिया था। उन्होंने कहा कि हम सीएनबीसी की रिपोर्ट सामने लाएंगे जिससे साफ हो जाता है कि जुलाई-सितंबर की तिमाही में सामान्य की तुलना में काफी अधिक पैसा बैंकों में जमा किया गया। आखिर यह पैसा किसका था।

गौरतलब है कि सरकार ने आठ नवंबर की मध्य रात्रि से पांच सौ और एक हजार रुपये के पुराने नोटों का प्रचलन बंद कर दिया था। इन नोटों को बदलवाने के लिए लोगों को 30 दिसंबर तक का समय दिया गया है। इस अवधि में लोग चार हजार रुपये तक के नोट अपनी पहचान बताकर बैंकों और डाकघरों में बदलवा सकते हैं। खातों में धन जमा करने की कोई सीमा नहीं है लेकिन जमाकर्ता को इसका हिसाब देना पड़ेगा।


सरकार के इस फैसले के बाद लोगों को अपने दैनिक खर्चों को चलाने में दिक्कतें आ रही हैं। पिछले तीन दिनों से नोट बदलवाने के लिए बैंकों पर सुबह से ही लाइनें लग रही हैं। एटीएम पर भारी भीड़ की वजह से भी लोग परेशान हो रहे हैं। कांग्रेस, बहुजन समाज पार्टी (बसपा), समाजवादी पार्टी (सपा), वामपंथी और तृणमूल कांग्रेस ने सरकार के इस फैसले का विरोध किया है।

Share this:

Post a Comment

 
Copyright © 2014 Akhand Bharat Times | Hindi News Portal | Latest News in Hindi : हिंदी न्यूज़ . Designed by OddThemes & Customised By News Portal Solution