BREAKING NEWS

Monday, 2 October 2017

अन्ना हजारे फिर आंदोलन शुरू, मोदी सरकार पर के सामने रखी 10 मांगे



नई दिल्ली। गांधी जयंती के अवसर पर समाजसेवी अन्ना हजारे ने सोमवार को राजघाट पर एक दिन का सत्याग्रह किया। इस मौके पर अन्ना हजारे ने मोदी सरकार पर निशाना साधा और आंदोलन की चेतावनी दी। अगर ऐसा हुआ तो अन्ना हजारे 6 साल बाद फिर से आंदोलन कर सकते हैं। अन्ना हजारे ने मंगलवार को केन्द्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि मोदी सरकार भ्रष्टाचार को रोकने में फेल है। साथ ही उन्होंने कहा कि जनलोकपाल और लोकायुक्त को लेकर गंभीर नहीं है।












अन्ना हजारे ने कहा कि अगर सरकार इस दिशा में दिसंबर या अगले वर्ष जनवरी तक कोई ठोस कदम नहीं उठाती है तो वे फिर से संघर्ष के लिए मैदान में उतरेंगे। ज्ञातव्य है कि पहले भी अन्ना हजारे ने पीएम मोदी को पत्र लिखकर भ्रष्टाचार और किसानों की समस्याओं पर अपनी नाराजगी जाहिर की थी। अन्ना हजारे ने मोदी सरकार के सामने दस मांगे रखी हैं।












आइए जानते हैं अन्ना हजारे ने मोदी सरकार के सामने कौन सी मांगे रखी हैं। 
 

1- अन्ना ने जनलोकपाल और राज्य में लोकायुक्त नियुक्त करने की मांग की
2- किसानों की समस्याओं को लेकर स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट की सिफारिशों को लागू करे।
3- किसानों के मुद्दे को लेकर गंभीर हो सरकार।
4-विदेशों में जमा काला धन को वापस भारत लाया जाए, देश में छिपे काला धन का हिसाब जनता को मिले।
5- नागरिक संहिता पर अमल हो।

Share this:

Post a Comment

 
Copyright © 2014 Akhand Bharat Times | Hindi News Portal | Latest News in Hindi : हिंदी न्यूज़ . Designed by OddThemes & Customised By News Portal Solution