BREAKING NEWS

Sunday, 8 October 2017

मुग़लसराय का नाम बदला गया तो तो बदलने वाले 13 लोगों का 6 इंच छोटा किया जाएगा ......








"अखंड भारत टाइम्स" परिवार से जुड़ने के लिए ऑफिसियल पेज लाइक जरुर करें :


यूपी के नक्सल प्रभावित चंदौली जिले के मुगलसराय रेलवे स्टेशन का नाम पंडित दीनदयाल उपाध्याय के नाम करने पर 6 इंच छोटा करने की धमकी पोस्टर चिपकाकर दी गई है। केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह के जिले में रविवार की सबेरे धमकी भरे यह पोस्टर मुगलसराय रेलवे स्टेशन के सटे इलाकों में चिपके मिले। इसकी सूचना मिलते ही पुलिस-प्रशासन मे हड़कंप मच गया। पुलिस ने पोस्टर को उखाड़कर फेंकने के साथ ही अज्ञात के खिलाफ धारा 504 व 506 में मुकदमा दर्ज किया गया है।

केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह का जहां पैतृक गांव इसी जिले में है वहीं बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष डॉक्टर महेंद्र नाथ पाण्डेय यहां के सांसद भी है। इस पोस्टर में नाम बदलने में जुटे 13 लोगों को चिन्हित करने की बात करते हुए यह धमकी दी गयी है।

मुगलसराय जंक्शन का नाम बदलने को लेकर विगत कई वर्षों से राजनीति गरम रही है। स्थानीय सांसद डॉक्टर महेंद्र नाथ पाण्डेय के अथक प्रयास के बाद मुगलसराय जंक्शन का नाम पंडित दीनदयाल उपाध्याय के नाम पर रखे जाने की प्रक्रिया अंतिम दौर में है। वहीं इसको लेकर धरना प्रदर्शन और आंदोलन की प्रक्रिया लगातार जारी है।

पंडित दीनदयाल जी की डेड बॉडी ट्रेन में घायल होने के पश्चात मुगलसराय यार्ड में ही मिली थी, जिस कारण पंडित दीनदयाल उपाध्याय के नाम पर मुगलसराय जंक्शन का नाम पर रखा जाने का तर्क बीजेपी के सांसद दे रहे हें। कांग्रेस इसका विरोध लंबे समय से जारी रखी है। कांग्रेस का तर्क है कि देश के दूसरे प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री जी की जन्मस्थली यहां है इसीलिए उनके नाम पर मुगलसराय जंक्शन का नाम रखा जाना चाहिए। लाल बहादुर शास्त्री न्यास समिति इसको लेकर आंदोलनरत है।

मुगलसराय के नाम बदलने की सरकारी कसरत के बीच धमकी भरे इस पोस्टर से पुलिस-प्रशासन में हड़कंप मच गया। मजेदार बात यह है की पोस्टर में डीएम-एसडीएम से पब्लिक के पक्ष में लड़ाई लड़ने की अपील की गई है। धमकी भरे इस पोस्टर को लेकर पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार सिंह ने बताया कि अज्ञात के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत कर पोस्टर लगाने व छपवाने वाले की आइडेंटिफिकेशन की जा रही है ताकि गिरफ्तारी की जा सके ।

नगरपालिका परिषद से मिट गया मुगलसराय

मुगलों के जमाने की सराय जो आगे चलकर मुगलसराय के नाम से मशहूर हुआ अब पंडित दीनदयाल उपाध्याय के नाम पर जाना जाने की कवायद प्रारंभ हो गयी। इस सम्बन्ध में शासनादेश सम्बंधित कार्यालयों को प्रमुख सचिव द्वारा प्रेषित प्राप्त हो गए हैं, जिस आधार पर तमाम कार्यालयों के नाम पर मुग़लसराय के नाम को मिटा कर दीनदयाल नगर रखे जा रहे है।




Share this:

Post a Comment

 
Copyright © 2014 Akhand Bharat Times | Hindi News Portal | Latest News in Hindi : हिंदी न्यूज़ . Designed by OddThemes & Customised By News Portal Solution