BREAKING NEWS

Tuesday, 26 December 2017

#Video : जयराम ठाकुर की कैबिनेट ने ली मंत्री पद की शपथ ,11 मंत्रियों ने ली शपथ .......







जयराम ठाकुर
ने मुख्यमंत्री पद की शपथ ले ली। 52 साल के जयराम स्नातक हैं और पांचवी बार विधायक चुने गए हैं। जयराम ठाकुर के अलावा,  जिन्हें मंत्री पद शपथ दिलाई  वो थे- महेन्द्र सिंह, सुरेश भारद्वाज, अनिल शर्मा, सरवीण चौधरी, राम लाल मार्कंड, विपीन सिंह परमार, वीरेन्द्र कंवर, विक्रम सिंह, गोविंद सिंह और राजीव सहजल। समारोह में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, लाल कृष्ण आडवाणी, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस समेत भाजपा के कई बड़े नेता मौजूद थे।

-राजीव सैजल ने ली मंत्री पद की शपथ, तीसरी बार बने हैं विधायक। दलित कोटे से मंत्री बन रहे हैं। पेशे से डॉक्टर है और कोई आपराधिक रिकॉर्ड नहीं है। सोलन जिले के कसौली सीट से विधायक हैं।
-गोविंद सिंह ठाकुर ने भी संस्कृत में शपथ ली। तीसरी बार लगातार विधायक बने और पहली बार मंत्री बन रहे हैं। बीए तक उन्होंने पढ़ाई की है। उनकी छह करोड़ रूपये की संपत्ति है। तीन आपराधिक मामले दर्ज हैं।
-वीरेन्द्र कंवर उना जिले के कुटलैहड़ से विधायक चुने गए हैं। 2003 में पहली बार विधायक चुने गए। इस चनाव में वह चौथी बार विधायक बने हैं। आरएसएस और एबीवीपी से उनका जुड़ाव रहा है। उनका कोई आपराधिक रिकॉर्ड नहीं है और उनकी संपत्ति करीब तीन करोड़ से ज्यादा है।

-विक्रम सिंह कांगड़ा जिले के जसवां-प्रागपुर सीट से विधायक बने हैं। तीसरी बार विधायक बने। 2000 में हिमाचल भाजपा के युवा मोर्चा के अध्यक्ष बने थे। बीएससी, बीएड की पढ़ाई की है। उनके खिलाफ एक आपराधिक मामला दर्ज है।

-विपीन सिंह परमार तीसरी बार राज्य के मंत्री पद के रूप में शपथ ली है। वह 1998 में पहली बार विधायक बने। उनके खिलाफ कोई भी आपराधिक रिकॉर्ड नहीं है। उनकी संपत्ति करीब एक करोड़ से ज्यादा है। कांगड़ा जिले से सुहल सीट से वह विधायक बने हैं। 
-52 साल के डॉक्टर राम लाल मार्कंड ने पीएच डिग्री धारक है। वे लाहौल स्पीति से तीसरी बार विधायक चुने गए हैं। रामलाल के खिलाफ कोई भी आपराधिक मामला दर्ज नहीं है। 1998 में वे पहली बार मंत्री बनाए गए थे।
  
-कांगड़ा जिले की शाहपुर सीट से विधायक चुनी गई  सरवीन चौधरी ने मंत्री पद की शपथ ली। वह चौथी बार विधायक चुनी गई। 2008 से 2012 के दौरान भाजपा की सरकार में भी वह मंत्री रह चुकी हैं। उन्होंने एमए तक की पढ़ाई की है। उनके खिलाफ कोई भी आपराधिक रिकॉर्ड नहीं है।




-सुरेश भारद्वाज ने संस्कृत में शपथ ली। वे शिमला शहर से चौथी बार विधायक चुने गए हैं। हिमाचल प्रदेश भाजपा के वह अध्यक्ष भी रहे हैं। वे विज्ञान और लॉ से स्नातक है। वह हिमाचल विधानसभा मे मुख्य सचेतक भी रहे हैं और राज्यसभा के सदस्य भी रह चुके हैंं।
-मंडी सीट से जीते अनिल शर्मा ने मंत्री पद की शपथ ली। हिमाचल के बड़े नेता सुखराम के बेटे हैं। सलमान खान की बहन अर्पिता के ससुर हैं। वीरभद्र सरकार में वह मंत्री थे और कांग्रेस छोड़कर भारतीय जनता पार्टी से चुनाव लड़े थे।

"अखंड भारत टाइम्स" परिवार से जुड़ने के लिए ऑफिसियल पेज लाइक जरुर करें :

Share this:

Post a Comment

 
Copyright © 2014 Akhand Bharat Times | Hindi News Portal | Latest News in Hindi : हिंदी न्यूज़ . Designed by OddThemes & Customised By News Portal Solution