BREAKING NEWS

Tuesday, 2 January 2018

कांग्रेस के द्वारा चुनाव में जित के लिए हिन्दुओं को अलग-थलग करने की नई रणनीति सफल हो पाएंगी ?






हिन्दू एकता को तोड़ने में पूरी तरह से नाकाम कांग्रेस की जो नयी रणनीति है वो बेहद गम्भीर और देश को तोड़ने वाला है .

देश भर के मुस्लिमों को एकजुट रखो और हिन्दुओं को जाती-जाती में तोड़ कर बिल्कुल अलग कर दो .

इसकी जो नई स्ट्रैटिजी बनीं है वो कुछ इस तरह से है : 





जहाँ-जहाँ बीजेपी की सरकार हैं वहाँ-वहाँ सबसे पहले हिन्दुओं को आपस में लडाने का पूरा ब्लू-प्रिंट तैयार कर स्टेप बाय स्टेप आगे बढ़ते हुए अंजाम तक पहुँचना है .

सबसे पहले स्थानीय पार्टियों के साथ मिलकर सभी हथकंडे अपनाए जायेंगे , आखिर वो हथकंडे क्या-क्या होंगे और कैसे काम करेगा समझने की कोशिश करतें हैं .

इसके लिए कई अलग-अलग जातिगत संस्थाओं से सम्पर्क कर उसे फंडिंग कराने की व्यवस्था कराई जा चुकी है . उनका काम होगा गरीब लोगों की पहचान कर उन्हें दिग्भ्रमित कर अपने जाती के लिए और उनके लिए लड़ाई-लड़ने के लिए प्रेरित करना होगा . इसके लिए तत्काल कुछ आर्थिक मदद भी करायी जायेगी ताकि उन्हें ऐसा महसूश हो सके की आगे भी इसी तरह से मदद मिलती रहेगी  . जबकि ऐसा करने का उद्देश्य भीड़ इकट्ठा कर उनके इशारे पर तोड़-फोर , दंगे फैलाने के लिए किये जायेंगे .

कई अलग-अलग हिन्दू संस्थाएं भी बनाये गए हैं जो महज कुछ महीनों में हीं राष्ट्र्वादी विचारधारा को लेकर अपनी बातों के जरिये नवयुवकों में काफी प्रशिद्ध हो गयी है , जबकि इसका भरपूर यूज राजस्थान के आने वाली आगामी बिधानसभा चुनाव में किये जायेंगे . वो भी कांग्रेस के द्वारा .

देशभर में इस तरह के माहौल को बनाने का समय - शीमा भी निर्धारित किया गया है सितम्बर तक पुरे देश भर में इस तरह के आग फैलाने की तैयारी की गयी है , ताकी लोकसभा चुनाव में इसका सीधा-सीधा फायदा कांग्रेस को मिल सके . 

और इसका नीव बिहार में बिधानसभा चुनाव के पहले ही रखा जा चुका है  . इसीका नजारा देखने को मिला गुजरात चुनाव में , आगे राजस्थान में भी कुछ इसी तरह के नजारे देखने को मिलने वालें है .




"अखंड भारत टाइम्स" परिवार से जुड़ने के लिए ऑफिसियल पेज लाइक जरुर करें :

Share this:

Post a Comment

 
Copyright © 2014 Akhand Bharat Times | Hindi News Portal | Latest News in Hindi : हिंदी न्यूज़ . Designed by OddThemes & Customised By News Portal Solution