BREAKING NEWS

Saturday, 6 January 2018

सीबीआई की विशेष अदालत से लालू को मिली साढ़े तीन साल की सजा , 5 लाख रुपये का जुर्माना भी लगा






रांची :
चारा घोटाला मामले में देवघर कोषागार से फर्जीवाड़ा कर करीब 90 लाख रुपये की निकासी करने के मामले में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव को सजा सुना दी गयी है. सीबीआई की विशेष अदालत के जज शिवपाल सिंह ने लालू प्रसाद को साढ़े तीन साल की जेल और पांच लाख रुपये जुर्माना की सजा सुनायी. उन्हें 420, 120बी व अन्य धाराओं के तहत सजा सुनायी गयी. जुर्माना की राशि अदा नहीं करने पर लालू प्रसाद और अतिरिक्त 6 महीने जेल में रहना होगा. वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये चारा घोटाला के सभी आरोपियों को सजा सुनायी गयी. सबसे पहले सप्लायरों और ट्रांसपोर्टरों को एवं सबसे अंत में राजनेताओं की सजा का एलान किया गया.

इससे पहले, संवाददाताओं से बात करते हुए लालू की सुरक्षा में लगे सिक्‍यूरिटी इंचार्ज ने बताया कि दोपहर 12 बजे तक कोर्ट की तरफ से कोई निर्देश नहीं आया है. कोर्ट के निर्देश के बाद ही लालू को जेल से कोर्ट ले जाया जायेगा. दूसरी ओर वकील अशोक कुमार ने बताया कि चारा घोटाले के दूसरे मामले (डोरंडा कोषागार निकासी मामला) में आज पेशी है, जिसमें लालू को सशरीर उपस्थित नहीं होना है.

वकील अशोक कुमार ने बताया कि सभी प्रकार की सुनवाई शुक्रवार को ही पूरी हो गयी है. अब यह कोर्ट पर निर्भर करता है कि लालू को सजा वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए सुनायी जाती है या कोर्ट रूम में बुलाकर. आपको बता दें कि चारा घोटाला के आरसी- 64 ए/ 96 मामले में जेल में बंद लालू प्रसाद को लेकर शुक्रवार को फैसला सुनाया जाना था. शुक्रवार  को एक बार फिर सिविल कोर्ट परिसर में सुबह से ही लालू के समर्थकों के जुटने का सिलसिला शुरू हो गया था.





इसी बीच राजद के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष गौतम सागर राणा समर्थकों के  साथ पहुंचे थे. थोड़ी देर बाद राजद के पूर्व केंद्रीय मंत्री रघुवंश प्रसाद  सिंह भी कोर्ट पहुंचे. हालांकि कुछ समर्थक पसोपेश में भी दिखे. लालू के अधिवक्ता प्रभात कुमार ने दावा किया है कि शनिवार का दिन सभी दोषियों को सजा सुनाने के लिए मुकर्रर हुआ है.

हालांकि शुक्रवार को होटवार जेल में बंद लालू प्रसाद समेत चार अन्य दोषियों  पूर्व विकास आयुक्त फूलचंद सिंह, आपूर्तिकर्ता राजा राम जोशी, पूर्व पशुपालन सचिव महेश प्रसाद और पूर्व विधायक आरके राणा की सजा पर ही सुनवाई पूरी हुई है. अभी छह दोषियों की सजा पर सुनवाई होनी बाकी है. न्यायाधीश ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये अल्फाबेट के आधार पर सुनवाई की.


"अखंड भारत टाइम्स" परिवार से जुड़ने के लिए ऑफिसियल पेज लाइक जरुर करें :

Share this:

Post a Comment

 
Copyright © 2014 Akhand Bharat Times | Hindi News Portal | Latest News in Hindi : हिंदी न्यूज़ . Designed by OddThemes & Customised By News Portal Solution